Now Reading
साहस की मिसाल गरिमा अबरोल

साहस की मिसाल गरिमा अबरोल

साहस की मिसाल गरिमा अबरोल

दुख, तकलीफ और विपत्तियां ज़िंदगी का हिस्सा है। इससे हम चाहकर भी बच नहीं सकते, लेकिन हां, सब कुछ खोने के बाद भी ज़िंदगी चलती रहती है, तो अपने टूटे दिल और सपनों को संजोकर एक बार फिर से नये सिरे से ज़िंदगी को जीने की कोशिश करनी चाहिये, जैसा कि गरिमा अबरोल न किया और आज सबके लिये मिसाल बन गईं।

कभी न मानें हार

कभी बिज़नेस में घाटा, तो कभी किसी दुर्घटना में अपनो को खो देने का दुख वाकई इंसान को तोड़कर रख देता है, लेकिन इन विपरीत परिस्थितियों में भी ज़िंदगी नहीं रुकती। इसलिये बेहतर होता है कि जीवन में आगे बढ़ते रहें। जो लोग आगे बढ़ जाते है, उनका आने वाला कल न सिर्फ अपने लिये बेहतर हो जाता है, बल्कि दूसरों को भी प्रेरणा मिलती है। कितनी भी बड़ी विपत्ति क्यों न आये, उससे टूटने की बजाय मज़बूती से उसका सामना करें और आगे बढ़ते जायें। ऐसा ही किया है गरिमा अबरोल ने। गरिमा के पति स्क्वाड्रन लीडर समीर अबरोल प्लेन क्रैश में शहीद हो गये। उनका विमान मिराज-2000 एक फरवरी को बेंगलुरु में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था।

साहस की मिसाल गरिमा अबरोल
कहानी गरिमा की  | इमेज : डीएनए इमेज

एयरफोर्स में होंगी शामिल

ज़ाहिर सी बात है गरिमा के लिये यह दुख बहुत बड़ा था, लेकिन पति को खोने के बाद भी गरिमा ने हिम्मत नहीं हारी और पति की शहादत के पांच महीने बाद वह इंडियन एयरफोर्स ज़ॉइन करने जा रही है। गरिमा ने कड़ी मेहनत से वाराणसी में एसएसबी का इंटरव्यू क्लियर कर लिया है और अब वह हैदराबाद में बतौर फ्लाइंग ऑफिसर ट्रेनिंग लेंगी। जनवरी 2020 में वह इंडियन एयरफोर्स का हिस्सा बन जायेंगी। गरिमा का कहना है कि वह देखना चाहती हैं कि सेना के जूते पहनने के बाद जीवन कैसा होता है और पति की तरह वर्दी पहनना उन्हें ज़िंदगी का एक मकसद देता है। गरिमा पेशे से फिज़ियोथेरेपिस्ट हैं, मगर ज़िंदगी में कुछ अलग करने और कभी हार न मानने के उनके जज़्बे ने उन्हें इंडियन एयरफोर्स से जुड़ने के लिए प्रेरित किया।

See Also

ज़िंदगी के प्रति सोच बदलने की ज़रूर

– दुख और निराशा को दिल से लगाये रखने की बजाय उससे उबरने के लिये खुद को किसी दूसरे काम में व्यस्त रखें।

-किसी के जाने से ज़िंदगी खत्म नहीं होती, इसलिये आपको भी ज़िंदगी के साथ आगे बढ़ना होगा।

– यादों को दिल में बसाकर ज़रूर रखें, मगर उसे आगे बढ़ने की राह में रोड़ा न बनने दें।

– खुद को अंदर से इतना मज़बूत बनाये कि कोई भी मुश्किल आपको हरा न सके।

इमेज : डीएनए 

और भी पढ़े: समय और धैर्य की शक्ति को पहचानें

अब आप हमारे साथ फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पर भी जुड़िये।

What's Your Reaction?
आपकी प्रतिक्रिया?
Inspired
0
Loved it
0
Happy
0
Not Sure
0
प्रेरणात्मक
0
बहुत अच्छा
0
खुश
0
पता नहीं
0
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

©2019 ThinkRight.me. All Rights Reserved.