Now Reading
कोरोनाकाल में बच्चों के साथ बाहर जाते समय बरतें सावधानी

कोरोनाकाल में बच्चों के साथ बाहर जाते समय बरतें सावधानी

  • कोविड-19 में यदि बच्चों का बाहर जाना ज़रूरी है, तो मास्क से लेकर सुरक्षित दूरी जैसी कुछ खास बातों का ध्यान रखें।
3 MINS READ

कोरोना वायरस फैलने की वजह से बच्चे महीनों से घर में कैद हैं, यहां तक की पैरेंट्स डर के मारे उन्हें घर से बाहर निकालते ही नहीं है, लेकिन बच्चों को आखिर कब तक पूरी तरह से कैद रखा जा सकता है। कभी किसी काम से आपको उन्हें बाहर ले जाना पड़े या उनकी बोरियत दूर करने के लिए थोड़ी सैर करानी पड़े तो डरिए मत, बस सावधानी और सुरक्षा का ध्यान रखिएं। बच्चों के साथ बाहर जाते समय आपको किन बातों का ध्यान रखना चाहिए? आइए, जानते हैं इस लेख में।

मास्क है सबसे ज़रूरी हथियार

जैसे आप बच्चों को किताबों के बिना स्कूल नहीं भेजती थीं, वैसे ही अब बिना मास्क के बाहर न ले जाएं। आज के समय में यह सबसे ज़रूरी चीज़ है। बच्चा यदि थोड़ा बड़ा है तो वह तो आसानी से मास्क पहन लेगा, लेकिन दिक्कत छोटे बच्चों के साथ आती है। वह थोड़ी ही देर में मास्क खींचकर निकाल देते हैं, क्योंकि वह असहज महसूस करने लगते हैं। ऐसे में ज़रूरी है कि आप बच्चे को पहले मास्क पहनने की ट्रेनिंग घर पर ही दें, फिर बाहर लेकर जाएं। छोटे बच्चों को मास्क से दोस्ती कराने के लिए इन टिप्स को फॉलो करें

  • उन्हें कहें कि मास्क पहनकर तो आप बिल्कुल डॉक्टर बन गए हैं। घर पर उनके साथ डॉक्टर वाला गेम खेलें और उन्हें मास्क लगाकर रखने को ही कहें, इससे धीरे-धीरे बच्चे को आदत पड़ जाएगी।
  • उनका मास्क कोमल और ऐसे फैब्रिक का होना चाहिए जिससे सांस लेने में परेशानी न हो।
  • बच्चे के मास्क को थोड़ा दिलचस्प बनाएं, इसके लिए उन्हें किसी कार्टून कैरेक्टर या उनके मनपसंद प्रिंट वाला मास्क दे सकती हैं।
  • अगर आप घर पर ही मास्क बना रही हैं, तो मास्क बनाते समय बच्चे को भी उसमें शामिल करें और हो सके तो उन्हें मार्कर देकर कहें कि वह मास्क पर कोई ड्रॉइंग बना लें।
बच्चों के साथ बाहर जाते समय पहनाएं मास्क |इमेज : फाइल इमेज

सुरक्षित दूरी

बाहर जाने पर सिर्फ आप ही नहीं, बच्चे को भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना सिखाएं। यदि आप सैर के लिए गई हैं तो बच्चे से कहें कि वह दूसरे लोगों से दूर ही रहे, किसी के नज़दीक न जाए और न ही किसी को स्पर्श करें। बाहर यदि कोई पहचान वाला मिले तो भी बच्चे को उसके नजदीक जाने से रोकें।

See Also

संबंधित लेख : कोरोना वायरस से बचने के लिए दुनिया कर रही ‘नमस्ते’, जानिए इसके फायदे

किसी चीज़ को न छूएं

साथ ही उन्हें समझाएं कि बाहर जाने पर किसी भी चीज़ को छूना नहीं है चाहे वह लिफ्ट का बटन हो या बिल्डिंग का गेट। बच्चों की आदत होती है कि वह बाहर निकलने पर उत्सुकतावश हर चीज़ को छूने लगते हैं, लेकिन आज के समय मे ऐसा करना बिल्कुल सुरक्षित नहीं है, इसलिए बच्चों को यह सिखाना बहुत ज़रूरी है कि वह बाहरी चीज़ों को बिल्कुल न छूएं।

हाथों को सैनिटाइज करें

बाहर जाने पर आप साबुन पानी से तो बार-बार हाथ नहीं धो सकतीं, लेकिन सैनिटाइजर का तो इस्तेमाल कर ही सकती हैं ना? बच्चे के साथ जब भी बाहर जाएं हमेशा सैनिटाइजर साथ में रखें और किसी भी बाहरी चीज़ को छूने के बाद तुरंत हाथों को सैनिटाइज़ करें।

अतिरिक्त मास्क

बच्चे के साथ जा रही हैं तो अपने पास हमेशा 1-2 अतिरिक्त मास्क रखें, ताकि गीला या गंदा करने पर आप तुरंत बच्चे का मास्क बदल सकें। बच्चे को थोड़ी शुद्ध हवा और धूप मिले इसके लिए आप उन्हें लेकर बाहर तो निकल सकती हैं, लेकिन पूरी एहतियात और सुरक्षा के साथ।

और भी पढ़िये : क्या आप जानते हैं भोजन के बाद सौंफ और मिश्री क्यों खाते हैं?

अब आप हमारे साथ फेसबुक, इंस्टाग्राम और टेलीग्राम  पर भी जुड़िये।

What's Your Reaction?
आपकी प्रतिक्रिया?
Inspired
0
Loved it
0
Happy
0
Not Sure
0
प्रेरणात्मक
3
बहुत अच्छा
1
खुश
0
पता नहीं
0
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

FAQ