Now Reading
रात में फोन का ज़्यादा इस्तेमाल कर सकता है आपको बीमार

रात में फोन का ज़्यादा इस्तेमाल कर सकता है आपको बीमार

  • डिप्रेशन, तनाव जैसी बीमारियों से हो सकते हैं आप परेशान

रात में नींद न आने पर अक्सर लोग फोन पर उंगलियां फिराने लगते हैं। कभी सोशल मीडिया पोस्ट देखते हैं, तो कभी ऑनलाइन गेम या मूवी देखने में व्यस्त हो जाते हैं और उन्हें इस बात का एहसास तक नहीं होता कि रात के अंधेरे में फोन से निकलने वाली रोशनी उनकी सेहत को कितना नुकसान पहुंचाती है। यदि आप भी आजकल रात को फोन पर वेब सीरिज और मूवी देखने के आदी हो गए हैं तो यह लेख पढ़ने के बाद यकीनन अपनी आदत बदल देंगे।

नींद और मानसिक सेहत होती है प्रभावित

फोन का ज़्यादा इस्तेमाल और खासतौर पर रात में घंटों फोन पर बिताने से न सिर्फ आपकी नींद प्रभावित होती है, बल्कि इसके आप डिप्रेशन का भी शिकार हो सकते हैं। नेचुरल न्यूरोसाइंस में छपी एक रिसर्च के मुताबिक, रात में फोन की स्क्रीन पर लगातार टकटकी लगाए रहने से व्यवहारात्मक बदलाव आते हैं और इसका मानसिक स्वास्थ्य पर भी बुरा असर होता है।
दरअसल, इसकी वजह फोन से निकलनी वाली नीली रोशनी है। यह नीली रोशनी अक्सर एल ई डी, स्क्रीन, फ्लोरोसेंट बल्ब आदि द्वारा निकलने वाला लाइट का एक स्पेक्ट्रम है। रिसर्च में यह भी कहा गया है कि दिन में कुदरती रोशनी में फोन के इस्तेमाल से व्यवहारात्मक बदलाव नहीं देखे गए है, लेकिन रात के समय फोन के उपयोग करने वालों में ऐसा देखा गया है।

See Also

रात को फोन देखने से करें परहेज़|इमेज : फाइल इमेज

मन की शांति के लिए रात में करें यह काम

रात में अच्छी नींद आना ज़रूरी है क्योंकि तभी आप सुबह ताज़ा होकर उठ पाएंगे और सेहत भी अच्छी रहेगी, इसलिए ज़रूरी है कि रात को अपना दिमाग शांत रखकर सोए। इसके लिए कुछ बातों का ध्यान रखें।

  • रात में हल्का भोजन करें।
  • सोने से कुछ देर पहले मेडिटेशन कर सकते हैं जिससे सारे नकारात्मक विचार मन से निकल जाएंगे और दिमाग शांत हो जाएगा।
  • बिस्तर पर जाने के बाद कुछ देर वज्रासन में बैठें, गहरी सांस लें और अंत में शवासन करते हुए सो जाएं।
  • सोने से 1 घंटे पहले ही फोन दूर रख दें और जब तक बहुत ज़रूरी न हो, फोन का इस्तेमाल न करें। सोशल मीडिया और चैटिंग बिल्कुल न करें। टीवी भी बंद कर लें।
  • सोने से पहले कोई अच्छी किताब पढ़ सकते हैं और दिन भर की अच्छी बातों को याद करिए इससे आपको अच्छा महसूस होगा और मन शांत रहेगा।
  • यदि मन बहुत अशांत हो तो कुछ देर के लिए गहरी सांस लेते हुए ध्यान लगाएं।

याद रखिए फोन के ज़रूर उपकरण है, लेकिन इसका ज़रूरत से ज़्यादा इस्तेमाल आपके लिए हानिकारक हो सकता हैं। ज़िंदगी में फोन पर लगे रहने के अलावा भी बहुत कुछ है। घर के लोगों से बात करें, बच्चों के साथ मस्ती करें या खुद को किसी रचनात्मक काम में लगाएं।

और भी पढ़िये : आलस भगाने के 7 उपाय

अब आप हमारे साथ फेसबुक, इंस्टाग्रामट्विटर , टेलीग्राम  और हेलो पर भी जुड़िये।

What's Your Reaction?
आपकी प्रतिक्रिया?
Inspired
0
Loved it
0
Happy
0
Not Sure
0
प्रेरणात्मक
0
बहुत अच्छा
0
खुश
1
पता नहीं
0
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

FAQ