Now Reading
हेल्दी वर्क कल्चर बनाने के 5 टिप्स

हेल्दी वर्क कल्चर बनाने के 5 टिप्स

  • कर्मचारियों के लिए ज़रूरी है हेल्दी वर्क कल्चर

हर कंपनी की अपनी अलग संस्कृति और पहचान होती है, जो उसके मूल्यों, प्राथमिकताओं, वहां काम करने वाले लोगों और आदि चीज़ों से मिलकर बनती है। यह कारण स्वाभाविक रूप से कंपनी के रोज़मर्रा के वातावरण को बनाते हैं, जिसे कार्य संस्कृति यानी वर्क कल्चर कहते हैं। एक ऐसा वर्क कल्चर जहां कर्मचारी विकास के अवसर के साथ खुद को मूल्यवान, सुरक्षित, खुशहाल और आरामदायक महसूस करता है।

खुलापन

काम की जगह पर अच्छा माहौल बनाने के लिए ज़रूरी होता है कि वहां ओपन कल्चर को बढ़ावा दिया जाए। जब कंपनी में पारदर्शिता को आधार बनाकर काम किया जाता है, तो वहां खुद ब खुद हेल्दी वर्किंग कल्चर बनने लगता है। ओपन कल्चर का मतलब कंपनी से जुड़ी अहम बातों को कर्मचारियों के साथ साझा करना और इस बात का ख्याल रखना है कि कंपनी में किसी भी तरह का कोई विवाद न हो।

कर्मचारियों को सशक्त बनाएं

जब कर्मचारी को एक कंपनी में पूरा अधिकार दिया जाता है, तो वह अधिक प्रभावी और खुशी मन से काम करते हैं। कर्मचारियों को उनके काम में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए ट्रेनिंग दें ताकि वह समझ सकें कब क्या और कैसे करना है। नई – नई जिम्मेदारियों को निभाने के लिए प्रोत्साहन दें। जब वह विश्वसनीय और मूल्यवान महसूस करते हैं, तो अपने कंपनी के प्रति ईमानदार और प्रतिबद्ध होते हैं। 

See Also

संबंधित लेख : ऑफिस बनेगी एक खुशनुमा जगह

अच्छे प्रदर्शन के लिए ट्रेनिंग ज़रूरी | इमेज : फाइल इमेज

कर्मचारियों को प्रोत्साहन देना

कर्मचारियों को बिना किसी भेदभाव के आगे बढ़ने का अवसर देने से वर्किंग कल्चर बेहतर होने लगता है। अगर किसी भी कंपनी में कर्मचारी हर चीज़ में ज़्यादा से ज़्यादा जानकारी रखता है या कुछ करने की इच्छा रखता है, तो इसका फायदा कंपनी और कर्मचारी दोनों को ही होता है। कंपनी को ऐसे कर्मचारियों को पूरी तरीके से समर्थन करना चाहिए, जो सीखने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं।

काम के माहौल में बदलाव लाएं

जब काम में बदलाव का वातावरण आता है, तो कर्मचारी की उत्पादकता और मनोबल बढ़ता है। हेल्दी माहौल के लिए यह ज़रूरी है कि कंपनी सारे कर्मचारियों के लिए समान नियम कानून बनाएं। उनके लिए बीच -बीच में कोई गतिविधियां रखें, ताकि काम के साथ–साथ वह खुद को भी समय दे पाएं और आपसी रिश्तों को मज़बूत बना सकें।  

फीडबैक दे

किसी भी प्रकार के फीडबैक देने और प्राप्त करने की संस्कृति पूरी तरह से काम के माहौल को बदल सकती है। जब फीडबैक नियमित रूप से दिया जाता है, तो कर्मचारी यह समझने में सक्षम होते है कि उनका प्रदर्शन कैसा है।

कर्मचारियों को प्रेरित करने के लिए यह जताना बहुत ज़रूरी है कि वे कंपनी के लिए क्या काम कर रहे हैं और वे कितने महत्वपूर्ण हैं।

और भी पढ़िये : कपड़ों के रंग से व्यक्तित्व की पहचान

अब आप हमारे साथ फेसबुक, इंस्टाग्रामट्विटर  और  टेलीग्राम  पर भी जुड़िये।

What's Your Reaction?
आपकी प्रतिक्रिया?
Inspired
0
Loved it
0
Happy
0
Not Sure
0
प्रेरणात्मक
2
बहुत अच्छा
0
खुश
0
पता नहीं
0
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

FAQ