Now Reading
5 बातों का ध्यान रखकर करें अपना काम पूरा

5 बातों का ध्यान रखकर करें अपना काम पूरा

  • 5 बातों का रखें खास ख्याल और करें समय का सही इस्तेमाल

ऑफिस में अपना टारगेट पूरा करने ये समय पर काम खत्म करने की आप बहुत कोशिश करते हैं, लेकिन ऐसा कर नहीं पाता, तो इसके लिए कुछ बातें ज़िम्मेदार हो सकती हैं। चलिए आपको बताते हैं प्रोडक्टिविटी पर असर डालने वाली चीज़ों के बारे में और आप उससे कैसे डील कर सकते हैं।

 ध्यान भटकना

ज़रूरी ईमेल, फोन, कलीग/बॉस से बातचीत, कलीग का आपकी डेस्क के पास आकर बात करना आदि कई चीज़ें हैं, जिसकी वजह से आपका वर्तमान काम बाधित होता है। यानी जो काम आपके हाथ में है उसे आप इन कारणों से समय पर खत्म नहीं कर पाते हैं। ऐसे में ज़रूरी है कि आप टू डू लिस्ट बनाएं और उसका सख्ती से पालन करें। किसी काम को खत्म करने के लिए टाइमलाइन बनाएं और किसी भी कीमत पर उसे पूरा करें, इसके लिए अपने आसपास के माहौल को शांत बनाए रखें।

काम के बीच में न करें सोशल मीडिया चेक |इमेज : फाइल इमेज

मल्टीटास्किंग

आज की तारीख में चाहे घर हो या ऑफिस मल्टीटास्किंग बनना समय की डिमांड है, लेकिन सच्चाई तो यह है कि एक साथ कई काम करने से आप किसी एक काम पर पूरा फोकस नहीं कर पाते हैं जिससे काम खत्म करने में ज़्यादा समय लगता है। एक रिसर्च के मुताबिक जब एक काम से दूसरे काम पर फोकस शिफ्ट होता है तो दोबारा पहले वाले काम पर फोकस करने में कम से कम 25 मिनट का समय लगता है, इसे ‘अटेंशन रेसिड्यू’ कहते हैं, इसका मतलब है कि आपका थोड़ा फोकस अब भी पहले वाले काम पर ही है। दरअसल, आपका दिमाग तुरंत-तुरंत काम स्विच करने पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पाता है जिससे प्रोडक्टिविटी घट जाती है। इसलिए बेहतर है कि एक काम खत्म करने के बाद ही दूसरा हाथ में लें।

See Also

 संकुचित मानसिकता

अपनी सोच का दायरा बढ़ाएं, क्योंकि ऑफिस में आपको हमेशा नई परिस्थितियों और चुनौतियों से निपटने के लिए तैयार रहना पड़ता है। यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो जाहिर है इसका असर आपकी प्रोडक्टिविटी पर होगा। काम को बेहतर तरीके से करने के लिए हमेशा नई चीज़ें और तकनीक सीखते रहिए।

नई चीज़ों के बारे में सोचें|इमेज : फाइल इमेज

अनिश्चितता

अगर आप फैसले लेने में हिचकिचाते हैं तो जाहिर है इससे आपको प्रोडक्टिविटी पर असर पड़ेगा। कोई भी काम करना है या नहीं, किस तरह से करना है, इसके लिए निर्णय लेना ज़रूरी है, लेकिन यदि आप निर्णय नहीं ले पाते हैं जो काम कभी समय पर पूरा नहीं होगा। बेहतर होगा कि जो भी फैसला करने की सोच रहे हैं 2 मिनट तक उसका मूल्यांकन करें और समय पर सही फैसला करें। यदि कभी फैसला गलत भी हो जाए तो जल्दी निर्णय लेने पर आपके पास उसमें सुधार का समय रहता है।

बिना ब्रेक के काम

अधिकांश लोग 4-5 घंटे लगातार काम करते रहते हैं जिससे काम पर से फोकस हटने लगता है। इसलिए प्रोडक्टिविटी बढ़ाने के लिए ज़रूरी है कि आप बीच-बीच में ब्रेक लें। अपनी सीट से उठकर थोड़ी देर के लिए बाहर टहल आएं या अपने किसी दोस्त से बात करें।

इन छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखकर वर्कप्लेस पर आप अपनी प्रोडक्टिविटी बढ़ा सकते हैं।

और भी पढ़िये : घर का काम करके रखिए सेहत दुरूस्त

अब आप हमारे साथ फेसबुक, इंस्टाग्रामट्विटर , टेलीग्राम  और हेलो पर भी जुड़िये।

What's Your Reaction?
आपकी प्रतिक्रिया?
Inspired
0
Loved it
0
Happy
0
Not Sure
0
प्रेरणात्मक
0
बहुत अच्छा
0
खुश
0
पता नहीं
0
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

FAQ