Now Reading
काम के बीच सोशल मीडिया का सही इस्तेमाल देता है दिमाग को ब्रेक – कहती है रिसर्च

काम के बीच सोशल मीडिया का सही इस्तेमाल देता है दिमाग को ब्रेक – कहती है रिसर्च

  • सोशल मीडिया के फायदे और नुकसान दोनों है, ये आप पर निर्भर करता है कि आप इसका इस्तेमाल कैसे करते हैं

आज के समय में शायद ही ऐसा कोई होगा, जो सोशल मीडिया पर मौजूद ना हो। वरना देखा जाए तो हर इंसान ने फेसबुक, इंस्टाग्राम, व्हाट्स ऐप और ट्विटर पर अपना अकाउंट बनाया हुआ है। इसलिए शायद घर हो या फिर ऑफिस हर जगह सोशल मीडिया का बोलाबाला है। आंकड़ों की माने तो एक दिन में हर इंसान औसत 3 घंटे का समय सोशल मीडिया पर देता है। इसके कई सारे फायदे और नुकसान है, आइये जानते हैं।

क्या कहता है रिसर्च?

प्यू रिसर्च सेंटर के अनुसार, 77 प्रतिशत कर्मचारी काम करते समय विभिन्न कारणों के चलते सोशल मीडिया का उपयोग करते हैं। काम खत्म होने के बाद और दूसरा काम शुरू करने से पहले सोशल मीडिया चेक करने से दिमाग को ब्रेक मिलता है। फेसबुक, ईमेल, ब्लॉग, नेटवर्क साइट्स आदि सोशल टूल के इस्तेमाल से उनका प्रोफेशन सर्कल बढ़ता है। सहयोगी से आपस में संवाद होता है, काम की समीक्षा होती है, ऐसे में उत्पादकता में बढ़ोतरी होती है।

वर्कप्लेस में सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने से कई तरह के फायदे है, लेकिन उसके साथ  नुकसान भी है।

वर्कप्लेस में सोशल मीडिया के फायदा

मानसिक विराम

कर्मचारी को काम के बीच थोड़ा मानसिक विराम मिल जाता है, जिससे उनका मूड अच्छा होता है और काम में मन लगा रहता है। यह उनके आत्मविश्वास और खुशी को बढ़ाता है। 

कामकाजी रिश्ते होते हैं मज़बूत

सोशल मीडिया साइटों के माध्यम से कर्मचारी कंपनी के बाहर के लोगों के साथ प्रोफेशनल संबंध बढ़ाते हैं। इससे उनके लिए प्रोफेशनल संबंध मज़बूत होते हैं।

See Also

जानकारी बढ़ती है  

इससे काम करते समय देश दुनिया की खबर मिलती है और जानकारी बढ़ती है। सोशल मीडिया के कारण  ही आप पल -पल की खबरों से अलर्ट रहते है और खुद को अपडेट करते रहते हैं। नई चीजों को सोशल मीडियो के जरिये जल्दी से सीख सकते हैं।

संबंधित लेख : सही इस्तेमाल से होगा सोशल मीडिया का पॉज़िटिव असर

सोशल मीडिया का करे सही इस्तेमाल | इमेज : फाइल इमेज

वर्कप्लेस में सोशल मीडिया से होने वाले नुकसान

जिस प्रकार सिक्के के दो पहलू होते हैं, ठीक उसी तरह सोशल मीडिया का ज़्यादा इस्तेमाल खतरनाक हो सकता है।

समय की बर्बादी

किसी चीज़ की अति होने पर नुकसान भी होता है। इसलिये वर्कप्लेस पर ज़्यादा समय सोशल मीडिया न बिताएं। इससे ध्यान भटकने की संभावना बढ़ सकती है।

तकनीकी खतरा

अगर आपके कंप्यूटर या लैपटॉप पर एंटी वायरस की सुरक्षा नहीं है, तो सोशल मीडिया से हैकिंग, वायरस और घोटाले आदि की परेशानी हो सकती है।

नकारात्मक विचार

दिन भर हो रही हिंसा और तनाव की खबरें सोशल मीडिया में जमकर चलती है और ना चाहते हुए भी आपको इनसे रूबरू होना पड़ता है। ये आप पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकती है।

समाज से कटाव

जब आप सोशल मीडिया में जुड़ते हैं, तो आपको असली समाज की ज़रूरत कम महसूस होती है और आप समाज से कटते चले जाते हैं।

सोशल मीडिया इस्तेमाल करना गलत नहीं है लेकिन अगर यह आपके विचारो और संस्कारों में हावी होने लग जाए तो यह बहुत खतरनाक रूप ले लेता है। कई बार छोटी-छोटी बातों पर ध्यान न देने से नुकसान उठाना पड़ सकता है। इसलिए सोशल मीडिया का फायदा तो उठाएं लेकिन साथ ही कुछ बातों का भी ध्यान रखें।

और भी पढ़िये : मानसिक सेहत के लिए मानसिक शक्ति है ज़रूरी

अब आप हमारे साथ फेसबुक, इंस्टाग्राम और टेलीग्राम  पर भी जुड़िये।

What's Your Reaction?
आपकी प्रतिक्रिया?
Inspired
0
Loved it
0
Happy
0
Not Sure
0
प्रेरणात्मक
1
बहुत अच्छा
0
खुश
1
पता नहीं
0
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

FAQ