Now Reading
पॉज़िटिव बातें जो बढ़ाएंगी आपका मनोबल

पॉज़िटिव बातें जो बढ़ाएंगी आपका मनोबल

  • मनोबल बढ़ाने के लिए खुद से कहें ये बातें

ऑफिस का काम तो हर दिन करना पड़ता है, लेकिन हर दिन काम का मूड नहीं होता या कुछ अलग करने की प्रेरणा नहीं मिलती या बॉस की डांट खाने के बाद आप खुद को कोसने लगते होंगे। आप इन स्थितियों को तो बदल नहीं सकतें, लेकिन हां, खुद से कुछ सकारात्मक बातें कहकर, हालात व चीज़ों के प्रति नज़रियां बदकर खुद को प्रेरित ज़रूर कर सकते हैं।

खुद को कैसे करें प्रेरित ?

राहुल का आज बॉस के सामने प्रजेंटेशन है। पूरी रात मेहनत करके उसने तैयारी तो कर ली, लेकिन सबके सामने बोलने की सोच कर अभी से पसीने छूटने लगे। फिर आईने के सामने खड़े होकर राहुल ने पूरे आत्मविश्वास के साथ खुद से कहा, ‘मैं हर काम कर सकता हूं, बॉस के सामने मैं ऐसा प्रजेंटेशन दूंगा कि हर कोई देखता रह जाएगा, मैं अपना सौ फीसदी दूंगा।’ खुद से कही इस बात ने जादू सा असर किया और ऑफिस में उसने शानदार प्रजेंटेशन दिया, राहुल के आत्मविश्वास ने सबको हैरत में डाल दिया। आप भी हर रोज़ इसी तरह कुछ सकारात्मक बातें बोलकर अपना मनोबल बढ़ा सकते हैं।

1. मेरा साहस मेरे डर से बड़ा है

आपने वह कहावत तो सुनी ही होगी ‘डर के आगे जीत है।’ कोई भी डर आपके साहस से बड़ा नहीं हो सकता। जिस भी काम से डर लगता हो चाहे वह ऊंचाई पर चढ़ना हो या लोगों की भीड़ में बोलना, बस एक बार हिम्मत जुटाकर वह काम कर लीजिए डर आपसे कोसो दूर चला जाएगा।

See Also

2. खुद को बेहतर बनाने के लिए मैं बाधाओं को अवसर में बदल सकता हूं

छोटी डेडलाइन, बॉस की डांट, बार-बार रिजेक्ट होना, हर दिन नया तनाव जैसी चीज़ें यकीनन आपका मनोबल गिरा देती होगी, लेकिन ये मुश्किलें आपको आगे बढ़ने से नहीं रोक सकती यदि आप एक बार अपना नज़रिया बदल लेते हैं। मुश्किल हालात में टूटने की बजाय खुद से कहें कि यह कठिन परिस्थितियां मुझे नई चीज़ें सिखा रही हैं, मज़बूत बना रही हैं और मेरा व्यक्तित्व निखार रही हैं।

संबंधित लेख : पॉज़िटिव सोच के लिए करें ये काम

जीवन में अपनाएं पॉज़िटिव सोच | इमेज : फाइल इमेज

3. मैं अपने लिए काम कर रहा हूं, किसी को खुश करने के लिए नहीं

अक्सर लोग चाहते हैं कि उनका काम दूसरे नोटिस करें या उनके काम की तारीफ करें, लेकिन ऐसा काम सच्चा नहीं होता और इससे आपको कभी आत्मसंतुष्टि नहीं मिल सकती। इसलिए खुद को याद दिलाएं कि आपने फलां काम इसलिए शुरू किया था क्योंकि आपको इसका जूनून था या यह आपका पैशन था, न कि दूसरों की तारीफ पाने के लिए।

4. अपने लिए काम से ब्रेक लेकर मैं और बेहतर बन जाता हूं

याद रखिए खुद के लिए समय निकालना या अपना ख्याल रखना स्वार्थ नहीं है, बल्कि यह बहुत ज़रूरी है, क्योंकि तभी आप फिर से दोगुने उत्साह से अपना काम कर सकते हैं। तो अपने लिए ब्रेक लेने पर खुद को कसूरवार न समझें

5. मेरा काम कोई भी मुझसे बेहतर नहीं कर सकता

दूसरों को देखकर कभी आपके मन में ख्याल आए कि आप जिस पद पर हैं उसके काबिल नहीं है या कोई और आपका काम बेहतर तरीके से कर सकता है, तो खुद से कहें कि आप बिल्कुल सही जगह पर हैं। खुद को याद दिलाएं कि आप किसी विशेष कारण से इस पद पर हैं और आपका अनुभव, स्किल और लोगों से बनाए रिश्ते आपको इस नौकरी के लिए परफेक्ट बनाता है।

और भी पढ़िये : डिप्रेशन से जुड़ी गलतफहमियों को करें दूर

अब आप हमारे साथ फेसबुक, इंस्टाग्रामट्विटर  और  टेलीग्राम  पर भी जुड़िये।

What's Your Reaction?
आपकी प्रतिक्रिया?
Inspired
0
Loved it
0
Happy
0
Not Sure
0
प्रेरणात्मक
2
बहुत अच्छा
2
खुश
0
पता नहीं
0
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

FAQ