Now Reading
सात्विक आहार बनाते समय रखें इन 7 बातों का ध्यान

सात्विक आहार बनाते समय रखें इन 7 बातों का ध्यान

  • शरीर और मन को करता है शुद्ध सात्विक आहार

शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के संतुलन को बनाए रखने के साथ ही सात्विक आहार कई फायदे हैं। चूंकि यह शुद्ध होता है और इसमें मौसमी फल और सब्ज़ियां भी शामिल होती हैं इसलिए यह शरीर को पूरा पोषण देकर उसे पूरी तरह से स्वस्थ रखता है।

सात्विक आहार में शामिल होती हैं ये चीज़ें

आयुर्वेद विशेषज्ञों के मुताबिक, सात्विक आहार व्यक्ति के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। चूंकि इसमें कोई भी ऐसा खाद्य पदार्थ शामिल नहीं होता जो शरीर को नुकसान पहुंचाएं। ऐसे में नियमित रूप से सात्विक आहार के सेवन से आपका वज़न भी नियंत्रित रहेगा। चलिए आपको बताते हैं सात्विक आहार में किन चीज़ों को शामिल किया जाता है।

फल और जूस

गाजर, तरबूज/खरबूज, आम, पपीता, केला, सेब, खजूर, संतरा, नींबू, मौसमी, अंगूर जैसे खट्टे फल और ताज़े फलों का जूस।

दूध और दूध से बनी चीज़ें

नारियल का दूध, बादाम दूध, दही, काजू का दूध, छाछ आदि।

See Also

दालें

चना, मूंग, मूंग दाल, सोयाबीन, चना दाल, बीन स्प्राउट्स और अलग-अलग तरह की दाल।

मसाले

हल्दी, अदरक, धनिया, तुलसी, जीरा, कालीमिर्च और दालचीनी।

मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत होता है फायदेमंद | इमेज : फाइल इमेज
सूखे मेवे, बीज और तेल

इसमें ऐसे सभी सूखे मेवे और बीज आते हैं, जिनमें नमक नहीं मिला होता या भूने नहीं होते हैं। पानी में भिगोकर छिलका उतारकर बादाम खाना भी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। आयुर्वेद के अनुसार कोल्ड प्रेस्ड ऑयल का सेवन करना चाहिए। इसके अलावा इसमें साबुत अनाज भी शामिल है।

संबंधित लेख : जानिए क्या है सात्विक भोजन और इसके पीछे का विज्ञान?

सात्विक आहार के फायदे

वज़न घटाने में सहायक- सात्विक में ताज़ी फल, सब्ज़ियां और फाइबर से भरपूर चीज़ें शामिल होती है, जो वज़न घटाने में मदद कर सकती है। कई अध्ययन के मुताबिक, मांसाहारी लोगों की तुलना में शाकाहारी लोगों का बॉडी मास इंडेक्स कम होता है और शरीर में फैट भी बहुत कम जमा होता है। सात्विक डाइट में तली, भूनी और मसालेदार चीज़ें भी शामिल नहीं होती तो जाहिर है कि यह वज़न कम करने में मदद करेगा।

सात्विक भोजन करें अपनी डाइट में शामिल | इमेज : फाइल इमेज
गंभीर बीमारियों से बचाता है

हम जो खाते हैं उसका हमारी सेहत पर सीधा असर होता है। किसी को भी स्वस्थ रहने के लिए पोषक तत्वों से भरपूर आहार लेना चाहिए और सात्विक आहार इस कसौटी पर खरा उतरता है। विशेषज्ञों का मानना है कि इसेक सेवन से कैंसर और डायबिटीज़ जैसी गंभीर बीमारियों का खतरा कम होने के साथ ही आपका संपूर्ण स्वास्थ्य अच्छा रहता है।

इम्यूनिटी बढ़ाता है

सात्विक आहार पोषक तत्वों से भरपूर होता है और इसमें अलग-अलग तरह के माइक्रोन्यूट्रिएंट्स जैसे विटामिन्स, मिनरल्स, एंटीऑक्सिडेंट्स, प्रोटीन और हेल्दी फैट होता है, जो आपकी इम्यूटिनी बढ़ाने के साथ ही बीमारियों को दूर रखता है।

सात्विक फूड पकाते समय कुछ बातों का ध्यान रखेः

  • यह हमेशा ताज़ा पका हुआ और सादा होता है।
  • इसमें कई तरह की चीज़ें शामिल होनी चाहिए, जैसे फल, सब्ज़ी, दाल, दूध, सूखे मेवे जिससे शरीर को पूरा पोषण मिले।
  • इसमें कुदरती रूप से उगाए गए मौसमी खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए और ऐसे फल जो कुदरती रूप से पके हो बिना किसी केमिकल के।
  • किसी भी रूप में पैक्ड और प्रोसेस्ड फूड के सेवन की पूरी तरह मनाही होती है।
  • जितना खाना हो उतना ही भोजन पकाएं ताकि खाना बर्बाद न हो।
  • भोजन आराम से चबाकर करना चाहिए।
  • भोजन प्यार से पकाना चाहिए क्योंकि आयुर्वेद के अनुसार सामने वाले के विचारों का भी भोजन पर प्रभाव पड़ता है।

और भी पढ़िये : वीरान भूमि को हरियाली की चादर से ढका ‘ट्री मैन’ ने

अब आप हमारे साथ फेसबुक, इंस्टाग्रामट्विटर  और  टेलीग्राम  पर भी जुड़िये।

What's Your Reaction?
आपकी प्रतिक्रिया?
Inspired
0
Loved it
0
Happy
0
Not Sure
0
प्रेरणात्मक
1
बहुत अच्छा
1
खुश
2
पता नहीं
0
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

FAQ